बुंदेलखंड :मौसम बदलने से टूट सकती है किसानों पर आफत
बुंदेलखंड :मौसम बदलने से टूट सकती है किसानों पर आफत
16, Mar 2018,09:03 AM
ANI, Uttar pradesh

आसमान में अचानक बादल राई और तेज गड़गड़ाहट के साथ छुटपुट बूंदाबांदी शुरु हुई तो किसानों के चेहरों पर चिंता आगई क्योंकि फसल पक चुकी है और उनकी कटाई चल रही है और ऐसे में खराब मौसम के साथ हल्की बूंदाबांदी किसानों की फसल खराब करने के लिए काफी है।यूपी के बुंदेलखंड के जिले ललितपुर का किसान पिछले कई सालों से मौसम की मार झेल रहा है, जब किसान की फसल पक कर तैयार होती है तभी मौसम की बेवफाई की चलते उसका जीना दुश्वार हो जाता है। पिछले कई सालों से आई फसल पर खराब मौसम की वजह से किसान लगातार परेशानी झेल रहा है।वर्तमान में सूबे के किसान की हालत बहुत ही खराब है वो लगातार कर्ज के बोझ तले दबाता जा रहा है। एक बार फिर किसानों की पकी फसल पर बादल छा जाने से मौसम भी छल करने में लगा है और इस बदलते मौसम से किसानों के चेहरों पर चिंता देखी जा सकती है।बदलते मौसम के साथ बादलों के आ जाने से किसानों की मन में  उथल पुथल मची हुई है। बदलते मौसम की इस रुख से किसानों की चिंताएं बढ़ गई हैं  अभी हाल ही में जिले ललितपुर के कई गांव में ओलावृष्टि हो चुकी है, जिसमें चना, मटर, मसूर की फसल खराब हो चुकी है। किसान पिछले कई सालों से एक तरह की मार झेलता आ रहा है। जैसे ही किसानों की फसलें पकने लगती है और कटाई शुरु होते ही मौसम बदलने लगता है, ना जाने कहां से बादल उमड़-घुमड़ कर आ जाते ।मौसम की मार से किसानों की आर्थिक दशा भी काफी खराब हो चुकी है।वो कर्ज में दबकर अपना और परिवार का जीवन यापन करने को मजबूर है।अगर इस बार भी उस पर मौसम की मेहरवानी नहीं हुई तो किसानों के सामने जीवन यापन का बड़ा संकट खड़ा हो जाएगा।  खराब मौसम की मार झेल कर कर्ज के बोझ तले दबकर कई किसानों ने तो अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं।

ये भी पढ़ें :

बहरिच आईटीआई छात्रों से वसूला जा रहा है अवैध पैसा

खबरें