टीडीपी ने अविश्वास प्रस्ताव लाने का किया एलान
टीडीपी ने अविश्वास प्रस्ताव लाने का किया एलान
17, Mar 2018,12:03 PM
ani, Uttar pradesh

देश के सामने इस वक्त सबसे बड़ा सवाल है कि क्या सोमवार को मोदी सरकार गिर जाएगी? यह सवाल इसलिए उठा है क्योंकि एनडीए से अलग होते ही टीडीपी ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने का एलान किया है. पार्टी के सांसदों ने दावा किया है कि प्रस्ताव लाने के लिए जरूरी 54 वोट उनकी पार्टी ने जुटा लिए हैं।

TDP ने क्यों किया अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला?

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा ना दिए जाने से नाराज टीडीपी ने आनन फानन में ये फैसला इसलिए लिय़ा क्योंकि इससे पहले टीडीपी की घोर विरोधी आंध्र की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने भी मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का एलान किया था. बीजेपी के लिए बुरी खबर ये है कि शिवसेना ने कहा है कि अविश्वास प्रस्ताव पर पार्टी तटस्थ रहेगी. मतलब ये कि हो सकता है कि वोटिंग के दौरान शिवसेना बीजेपी का साथ न दे। 

खतरे में पड़ सकती है मोदी सरकार !

लोकसभा में कुल 543 सीधे जनता द्वारा चुने हुए सांसद होते हैं, इस वक्त 5 सांसदों की सीट खाली है. एक स्पीकर की सीट होती है यानी इस वक्त सदन में 537 निर्वाचित सांसद हैं. बहुमत के लिए सदन में अभी 269 सदस्य चाहिए. सरकार से अलग हुई टीडीपी के पास 16 सांसद हैं. अविश्वास प्रस्ताव लाने वाली एक और पार्टी वाईएसआर के पास 9 सांसद हैं. 34 सांसदों वाली टीएमसी ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया है. इसका मतलब कि अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए जरूरी 54 का समर्थन मिल गया है. कांग्रेस साथ आती है तो इस प्रस्ताव को और ज्यादा बल मिलेगा.

ये भी पढ़ें :

गायक दलेर मेहंदी को दो साल कैद की सजा

खबरें