मोदी सरकार, घट सकती है ट्रिपल तलाक की सजा
मोदी सरकार, घट सकती है ट्रिपल तलाक की सजा
09, Aug 2018,03:08 PM
Edited By Aarti Singh,

 2019 में होने वोले लोकसबा चुनावों को मोदी सरकार बड़ी उपलब्धि के साथ पेश करना चाहती है, आपको बता दे की पिछले सत्र में ट्रिपल तलाक बिल राज्यसभा में अटक गया था। इस दौरान इस विधेयक पर सत्ता पक्ष और विपक्ष में काफी नोंक झोंक देखने को मिली थी, जिसमें कांग्रेस ने लोकसभा पीड़ित महिला को पती क जेल जाने के बाद गुजारा भत्ता दिए जाने के ले संशोधन भी पेश हुआ था। लेकिन संशोदन निचले सदन पर गिर ही गिर गया था। तो वही दुसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी,मंत्री मुख्तार अब्बास नकवा और कानून मंत्री रविकांश प्रसाद को भारतीय मुसलिंम महिला आंदोलन में बीएमएमए ने ट्रिपल तलाक के खिलाफ एक पत्र लिखकर विधेयक को भेजा गया था, जिसमें तीन साल की सजा एक साल की सजा करने की मांग की थी,लेकिन उसके साथ ही उन्हानें ये भी बोला था की महिलाओं और बच्चो के लिए ससुराल में रहने का गुज़ारा और उनकी देखभाल का अधिकार सुनिश्चित किया जाए।    

राहुल गांधी नें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था जिसमें महिला आरक्षण बिल को सांसद में पारित करने के लिए सहयोग के लिए अपील की थी। उसके बाद राहुल  गांधी को पत्र लिख कर कानून मंत्री रविकांश प्रसाद ने कहा था की कांग्रेस महिला आरक्षण ही नही बल्कि तीन लालाक,हलाला और राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग बिल पर भी सरकार उनका साथ दे। तभी इस पर कांग्रेस की प्रमुख सुष्मिता देव ने कहा की सरकार की तरफ से सौदेबाजी हो सकती है।

 

ये भी पढ़ें :

केरल में बारिश और भूस्खलन से भारी तबाही, 22 लोगों की मौत

खबरें