केरल के 12 जिलों में कुदरत का कहर
केरल के 12 जिलों में कुदरत का कहर
18, Aug 2018,10:08 AM
Edited By Aarti Singh,

केरल में सबसे बड़ी तबाही के कारण अब तक 324 लोगों की मौत हो चुकी है, शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी केरल पहुंचे, इस बीच राज्य में राहत और बचाव के लिए काम जारी है, इसके लिए पीएम मोदी ने अन्य अधिकारियो के साथ बैठक की, इसी के साथ 14 जिलों में से 12 जिलों में रेडअलर्ट जारी कर दिया है, लेकिन कासरगोड़ और तिरुवनंतपुरम जिलों में से शुक्रवार को रेडअलर्ट हटा लिया है, हजारों लोग अपने बचाव के लिए अभी भी ऊंची इमारतों पर बैठे हैं और बचने के लिए लगातार दुआं मांग रहे है, 50,000 से अधिक लोग एर्नाकुलम और त्रिशूर शिविरों में फंसे हुए हैं, केरल में बाढ़ से पीड़ित लोगों की जा बचाने में संयुक्त अरब अमीरात (UAE) नें कोफी मदद की, केरल में बाढ़ के चलचे इतनी तबाही मच रही है की दो शब्दों में बयां नही की जा सकती।

Image result for केरल के 12 जिलों में कुदरत का कहर

वायुसेना के जवान भी केरल में बाढ़ के कहर से लोगों को बचाने में लगे हुए हैं, सबसे बड़ी तबाही के बीच चल रहे सबसे बड़े रेस्क्यू ऑपरेशन में बाढ़ के बाद घरों की छतों पर फंसे लोगों को सकुशल सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है, प्रदेश के एक इलाके में साउदर्न एयर कमांड के जवानों ने एक ऐसे ही ऑपरेशन को भी अंजाम दिया है, यहां बाढ़ में घिरे घर की छत से लोगों को एयरलिफ्ट भी कर रहे है।

Image result for केरल के 12 जिलों में कुदरत का कहर

तबाही ऐसी है कि जल और जमीन का अंतर ही मिट गया है, शहर समंदर में तब्दील हो चुके हैं, सड़कों पर नावें दौड़ रही हैं, अलेप्पी इलाके में आईटीबीपी ने बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया और जवानों ने सैलाब में फंसे करीब 500 लोगों को कड़ी मशक्कत के बाद मौत की लहरों के बीच से बाहर निकाला, रस्सी के सहारे लोगों को सही सलामत बेकाबू लहरों के बीच से बाहर निकाला गया.

 

ये भी पढ़ें :

केरल में बाढ़ के चलते,सवा 3 लाख लोग बेघर

खबरें