केरल बाढ़ प्रभावित जिलो से रेड अलर्ट हटा, विमान सेवाए की गयी शुरु
केरल बाढ़ प्रभावित जिलो से रेड अलर्ट हटा, विमान सेवाए की गयी शुरु
20, Aug 2018,10:08 AM
Edited By Aarti Singh,

केरल में आयी ऐसी तबाही ने लोगों के दिलों मे दहस्त पैदा कर दी है जो सौ सालों में नही हुआ वो एक क्षण में हो गया, 6 लाख लोगं बेघर हो गये और 350 ले ज्यादा लोग इस तबाही में अपनी जान गवा चुके है। प्रदेश के लोगों को राहत शिविरों में रहने पड़ रहा है, बाढ़ पीड़ितों के लिए 5,645 राहत शिविर बनाए गए है। केरल में हालात इस कदर बिगड़े हुए थे कि प्रधानमंत्री मोदी ने भी केरल का हवाई दौरा किया और राज्य के लिए 500 करोड़ के राहत पैकेज का एलान किया है। साथ ही पीएम मोदी ने समीक्षा बैठक भी की।

रविवार के को बारिश के थमने के कारण लोगों को थोड़ी राहत की सास मिली है और जो केरल में विमान सेवाएं बाढ़ के कारण रोकी गयी थी उनको शुरु कर दिया गया है कोच्चि एयरपोर्ट बाढ़ के पानी की वजह से पूरी तरह डूब गया था, जिसके बाद अब नेवल एयर स्टेशन पर विमान सेवा को शुरू किया गया है। अब लगातार कमर्शियल फ्लाइट सेवा जारी रहेगी, अधिकतर फ्लाइट बेंगलुरु और कोयंबटूर से उड़ान भरेंगी।

केरल की इस बाढ़ ने लोगों के दिलों मे दहस्त पैदा कर दी है राज्य के 14 में से 11 ज़िलों में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया था। राज्य में बारिश और बाढ़ के चलते अब तक करीब 20 हज़ार करोड़ का नुकसान होने की बात मुख्यमंत्री विजयन कह रहे हैं, और इसी के साथ  केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने भी ट्वीट कर लोगों से बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए मदद की अपील की है। बताया जा रहा है कि करीब सौ वर्षों में केरल सबसे भयावह बाढ़ को झेल रहा है। मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए डोनेशन की भी अपील की है, और केरल के लिए 2000 करोड़ की राहत राशि केंद्र से मांगी है।

पीएम ऑफिस की तरफ़ से सभी मृतकों के परिजनों को दो दो लाख की सहायता राशि और गंभीर रूप से घायल लोगों को 50 50 हज़ार प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से देने की घोणा की है। वहीं कई राज्य सरकारें मदद के लिए आगे आई हैं. महाराष्ट्र, दिल्ली, पंजाब, गुजरात, बिहार, उत्तराखंड,झारखंड कई सरकारें ने मदद का एलान किया है. इस बीच केरल के सीएम विजयन ने भी ट्वीट कर लोगो से बाढ़ प्रभावित लोगो की मदद करने की अपील की है ।

 

ये भी पढ़ें :

खबरें