चुनाव में सीटे हुई कम,बीजेपी के लिए बनी चुनौती
चुनाव में सीटे हुई कम,बीजेपी के लिए बनी चुनौती
21, Aug 2018,11:08 AM
Edited By Aarti Singh,

2018 में इंडिया टुडे-कार्वी के मूड ऑफ द नेशन के चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी उभरती नजर आ रही हैं, लेकिन इस सर्वे में पीएम मोदी के लिए चेतावनी के संकेत नजर आ रहे है, आपक बता दे की ये सर्वे 18 जुलाई से 29 जुलाई तक चला और लगभग 12,100 लोगो के बीच 97 क्षेत्रों में और साथ ही 197 विधानसभा में हुआ, इस सर्वे के मुताबिक बीजेपी को 245 सीटें मिलती दिख रही है, 2014 में बीजेपी को 282 सीटें मिली थी, इस बार पिछली बार से तुलना करे तो 37 सीटें घटती दिख रही है, सर्वे का हिसाब देखा जाए तो बीजेपी को जीताने के लिए सहयोगी दलों की जरुरत होगी, हालांकि बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए को सर्वे में 281 सीटें मिल रही हैं, यूपीए के खाते में 122 सीटें मिल रही हैं,  जबकि अन्य सहयोगी दलों के खाते में शेष 140 सीटें आने की उम्मीद है।

इस बार पीएम मोदी को कड़े फैसले करने क लिए सहयोगी दलों से विचार-विमर्श करना होगा, तभी पीएम मोदी कोई कदम उठा पाएगे, इन्ही वजह से मदी नोद बन्दी जैसे कड़े फैसले ले पाए है, इस सर्वे में चुनावी नतीजे बदले तो सरकार सरकार के तेवर भी जरुर बदलेगे,  सर्वे के मुताबिक सपा, बसपा, टीएमसी, टीडीपी और पीडीपी जैसे दल अगर कांग्रेस नेतृत्व वाले यूपीए के साथ मिलकर चुनाव लड़ते हैं तो ऐसे में आंकड़े चौंकाने वाले हो सकते हैं, ऐसी सूरत में एनडीए को 255 सीटें और यूपीए को 242 सीटें मिल सकती हैं, जबकि अन्य को 46 सीटें मिल सकती हैं, देश के अगले प्रधानमंत्री के रूप में सबसे पसंदीदा नेता अभी भी नरेंद्र मोदी की सरकार ही है।

 

ये भी पढ़ें :

16 साल के सौरभ चौधरी का कमाल, शूटिंग में दिलाया पहला गोल्ड: Asian Games 2018

खबरें