देश में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए महागठबंधन बन रहा है : मुख्यमंत्री योगी
देश में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए महागठबंधन बन रहा है : मुख्यमंत्री योगी
02, Sep 2018,11:09 AM
TV100,

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि देश में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए महागठबंधन बन रहा है। यह एक राजनीतिक शरारत से ज्यादा कुछ नहीं है। वर्ष 2019 लोकसभा चुनाव के लिए विपक्ष के महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को दूसरी पार्टियां तो दूर खुद कांग्रेसी ही नेता मानने को तैयार नहीं है। उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता। राम मंदिर पर उन्होंने कहा कि यह प्रभु श्रीराम का काम है, वही जानते हैं कि यह कब होगा लेकिन जो काम होना है वह होकर रहेगा। पिछली सरकारें तो अयोध्या जाने में डरती थीं। हम तो अयोध्या ही नहीं मथुरा और कपिलवस्तु भी जा रहे हैं।  
यूपी में सपा बिना कांग्रेस के गठबंधन पर विचार कर रही है। शरद पवार व ममता बनर्जी, राहुल गांधी को नेता मानने के लिए तैयार नहीं होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले चुनाव में भी एनडीए की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी और यूपी की निर्णायक भूमिका होगी।

मुख्यमंत्री ने यह बात शनिवार को 'हिन्दुस्तान' के चौथे शिखर समागम में उद्धाटन सत्र में कही। मुख्यमंत्री ने महागठबंधन को भारत में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए एक शरारत करार दिया। कहा ये देश हित में नहीं है। इसलिए लोग फिर बीजेपी की सरकार बनाएगें। वर्ष 2019 का चुनाव राष्ट्रीय मुद्दों पर होगा। मोदी सरकार की उपलब्धियों पर चुनाव होगा। भाजपा का पक्ष मजबूत है।

समाजवादी कारनामे उजागर हुए तो भाग जाएंगे
पिछली सरकार के कार्यकाल पर योगी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि जो समाजवादी कारनामे किए वह उजागर हो जाएं तो भाग जाएंगे। जो एक्सप्रेस वे वह 15 हजार करोड़ में बनाने की तैयारी कर रहे थे। हम 11 हजार करोड़ में बनाने जा रहे। यह लूट कहां जाने वाली थी।
एक लाख करोड़ से किसानों के खाते में दिए
देश में किसानों की आत्महत्या की सबसे अधिक घटनाएं 2004 से 2014 के बीच हुईं। यूपी में भी उस दौरान हुईं लेकिन पिछले 15-16 महीनों में एक लाख करोड़ रुपये से अधिक किसानों के खाते में भेजा। यूपी में कहीं किसान आंदोलन नहीं हो रहा है। हमने लटके बांध एक वर्ष में पूरा किया। उन्होंने कहा कि अवैध स्लाटर हाउस पहले ही बंद कर दिए इसलिए यूपी में एक भी मॉब लिचिंग की घटना नहीं हुई।
सपा-बसपा जाति कार्ड खेलते हैं
सपा-बसपा जाति का कार्ड खेलते हैं। भाजपा विकास की बात करती है। दलित भाजपा से छिटक रहे हैं? इस सवाल पर कहा कि एक छोटे वर्ग ने विरोध प्रदर्शन किया इसलिए सबको उससे नहीं जोड़ना चाहिए। भारत विरोधी तत्व यह सब करा रहे थे। 
जहां जरूरत शहरों के नाम बदलेंगे
शहरों के नाम बदलने पर सीएम ने कहा जहां जरूरत होगी उसके नाम बदले भी जाएंगे। हमें आशावादी होना चाहिए। मदरसों के आधुनिकीकरण के सवाल पर सीएम ने कहा कि उन बच्चों को भी आधुनिक शिक्षा मिलनी चाहिए। उसकी संस्कृति से कोई छेड़छाड़ किए बगैर आधुनिक शिक्षा के प्रयास किए जा रहे हैं। 

ये भी पढ़ें :

पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां ने कहा मैने बच्चों की तालीम का इंतजाम किया तो मैं राष्ट्रद्रोही हो गया?

खबरें