चुनावी चिंतन: मिशन 2019 को लेकर बीजेपी की रणनीति
चुनावी चिंतन: मिशन 2019 को लेकर बीजेपी की रणनीति
08, Sep 2018,11:09 AM
tv100,

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी आने वाले चार विधानसभा चुनावों और लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों को लेकर कमर कस चुकी है. मिशन 2019 को लेकर बीजेपी अभी से ही जोर आजमाइश में जुट गई है. आगामी चुनावों मसलन विधानसभा और लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों का जायज़ा दो दिन की बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में लिया जाएगा, जो आज यानी शनिवार को दिल्ली में शुरू हो रही है. भाजपा अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में न सिर्फ चुनावी चर्चा करेगी बल्कि चुनाव पर चिंतन करेगी कि कैसे आगामी चुनावों में पार्टी की जीत सुनिश्चित की जाए. बीजेपी सामाजिक न्याय पर अपनी उपलब्धियों को प्रचारित कर रही है इसलिए पार्टी ने कार्यकारिणी की बैठक दिल्ली में नए बने अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर पर बुलाई है. बीजेपी एससी एसटी ऐक्ट में बदलाव और पिछड़े वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने को अपनी बड़ी उपलब्धि के रूप में प्रचारित कर रही है. हालांकि देश के कई हिस्सों में सवर्णों की नाराजगी भी उसके लिए परेशानी का सबब है. बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और बीजेपी शासित सभी राज्यों के मुख्यमंत्री समेत सभी कार्यकारिणी सदस्य बैठक में मौजूद रहेंगे.
बैठक में केंद्र की उपलब्धियों पर प्रमुखता से चर्चा की जाएगी. बैठक में राज्यवार रिपोर्टिंग होगी और हर राज्य के अध्यक्षों के तरफ से राज्य का रिपोर्ट कार्ड पेश किया जाएगा और लोकसभा चुनावों की तैयारी पर भी बैठक में चर्चा की जाएगी. इसके अलावा बैठक में सरकार की उपलब्धियों, खासकर बुनियादी ढांचे के विकास, दो करोड़ ग्रामीण आवास, उज्ज्वला गैस कनेक्शन, खुले में शौच मुक्त गांव, विद्युतीकरण और इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी में हुई बढ़ोतरी पर चर्चा होगी. राष्ट्रीय कार्यकारिणी में बीजेपी एनआरसी को लेकर भी बड़े पैमाने पर चर्चा करने जा रही है.

ये भी पढ़ें :

दिल्ली में पेट्रोल पहुंचा 80 रुपये के पार, मुंबई में 88 के करीब

खबरें