डालमिया ग्रुप ने 25 करोड़ मे गोद लिया लाल किले को इसके बाद ताजमहल की बारी
डालमिया ग्रुप ने 25 करोड़ मे गोद लिया लाल किले को इसके बाद ताजमहल की बारी
28, Apr 2018,10:04 AM
,

अब हमारी ऐतिहासिक इमारत ली जायेगी गोद पहले नम्बर पर लाल किला और दूसरे नम्बर पे ताज महल। एक अग्रेंजी अखबार की खबर  के मुताबिक हमारी ये एतिहासिक इमारत की कीमत 25 करोड़ तय हुयी है। डालमिया ग्रुप ने 25 करोड़ मे गोद लिया लाल किले को इसके बाद ताजमहल की बारी ....

इसी के साथ हम आपको बताते चले की देश की ऐतिहासिक धरोवर को संवारने के लिए क्रेंन्द सरकार ने ये कदम उठाया है  दरअसल, सरकार ने ‘एडॉप्ट ए हेरिटेज’ स्कीम सितंबर 2017 में लांच की थी। देश भर के 100 ऐतिहासिक स्मारकों के लिए यह स्कीम लागू की गई है।

डालमिया ग्रुप संभवत: 23 मई से काम भी शुरू करने की प्रक्रिया में जुट जाएगी। हालांकि, 15 अगस्त के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से पहले जुलाई में डालमिया ग्रुप को लालकिला फिर से सिक्योरिटी एजेंसियों को देना होगा। इसके बाद ग्रुप फिर से लालकिले को अपने हाथ में ले लेगा। आपको बता दें कि भारत को आजादी मिलने के बाद हर साल स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर 15 अगस्‍त को देश के प्रधानमंत्री तिरंगा फहरा कर आजादी का जश्‍न मनाते हैं। लाल किले के प्राचीर से प्रधानमंत्री देश को संबोधित करते हैं।

लालकिला के कॉन्ट्रैक्ट को लेकर डालमिया भारत ग्रुप, टूरिज्म मिनिस्ट्री, आर्कियोलॉजी सर्वे ऑफ इंडिया के बीच 9 अप्रैल को डील हुई। ग्रुप को 6 महीने में लालकिले में सुविधाएं देनी होंगी। इसमें पीने के पानी की सुविधा, स्ट्रीट फर्नीचर जैसी सुविधा शामिल हैं। डाल‍मिया भारत ग्रुप के सीईओ महेंद्र सिंघी ने कहा कि लाल किला में 30 दिनों के अंदर काम शुरू कर दिया जाएगा। उन्‍होंने कहा, ‘लाल किला हमें शुरुआत में पांच वर्षों के लिए मिला है। कांट्रैक्‍ट को बाद में बढ़ाया भी जा सकता है। हर पर्यटक हमारे लिए एक कस्‍टमर होगा और इसे उसी तर्ज पर विकसित किया जाएगा। हमारी कोशिश होगी कि पर्यटक यहां सिर्फ एक बार आकर ही न रुक जाएं, बल्कि बार-बार आएं।

 

ये भी पढ़ें :

बुलंदशहर में बोले सीएम योगी, दिल्ली जैसा मिलेगा रोजगार-योगी

खबरें