गैंगरेप के बाद एक किशोरी को जिंदा जलाया
गैंगरेप के बाद एक किशोरी को जिंदा जलाया
05, May 2018,11:05 AM
Uttar Pradesh,Edited By Aarti Singh,

क्रूरता किसी के अन्दर इस हद तक जन्म ले सकती है कि आप सोच भी नही सकतें है ऐसा ही एक मामला एक चतरा जिले के इटखोरी में शुक्रवार को दोपहर गैंगरेप के बाद एक किशोरी को जिंदा जला दिया गया उसके बाद भी आरोपियों का दिल नहीं भरा तो पंचायत में इंसाफ माग रहे पिता को भरी पंचायत में पीट-पीट कर अधमरा कर दिया। घटना के बाद आरोपी परिवार फरार है। 

पुलिस ने लड़की अधजला शव बरामद कर लिया है। थाने में एक दर्जन लोगों पर नामजद एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं जिलाधिकारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की पुष्टि करते हुए उन्होंने बताया कि पंचायत ने जब आरोपी पर 100 उठक-बैठक और पीड़ित परीवार को 50 हजार रुपये देने का जुर्माना लगाया तो आरोपी ने इसे मानने से इंकार करते हुए लड़की को जिंदा जला दिया गया

पिता के अनुसार, कोनी पंचायत के राजाकेंदुआ में गुरुवार रात गांव का ही धनु भुईयां उसकी बेटी को बहला-फुसला कर बाइक से कहीं ले गया। अगली सुबह लड़की लौटी तो उसके परिजन के घर में शादी समारोह में थे। 

किशोरी ने बताया कि धनु ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। इसकी शिकायत परिजनों ने पंचायत में की। शुक्रवार सुबह स्कूल में पंचायत बैठी। उसमें मुखिया तिलेश्वरी देवी भी मौजूद थीं। पंचायत में धनु के परिजनों ने 50 हजार रुपया लेकर मामला खत्म करने का प्रस्ताव रखा। 

पिता द्वारा इनकार पर धनु भुइयां के परिजनों ने मारपीट की। उस वक्त लड़की अपने घर में थी। थोड़ी देर बाद धनु और उसके परिजन लड़की के घर पहुंचे और अंदर घुस कर उसके शरीर में आग लगा दी। चीख-पुकार सुनकर जब लड़की के परिजन वहां पहुंचे, तो लड़की की मौत हो चुकी थी।

सूचना मिलते ही इटखोरी पुलिस पहुंची और अधजले शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा।  पिता के बयान पर धनु भुईयां समेत 12 लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। एसपी अखिलेश वी वारियर ने कहा कि किसी भी स्थिति में आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा

 

ये भी पढ़ें :

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया दौरा, सर्किट हाउस में हुई बैठक

खबरें