बढ़ते तेल की चिंता होगी अब समाप्त , अंतर्राष्ट्रीय बजार में घटे दाम
बढ़ते तेल की चिंता होगी अब समाप्त , अंतर्राष्ट्रीय बजार में घटे दाम
29, May 2018,03:05 PM
,

 मंगलावर को दिल्ली में पेट्रोल 16 पैसे बढ़कर 78.43 और डीजल 14 पैसे बढ़कर 86.24 हो गया। दोनों के दाम काफी ऊपर तक पहुंच गए। लोगों को यह बात समझ नहीं आ रही है कि आखिर क्यों अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर गिरते कच्चे तेल के दाम के बावजूद भारत में  तेल कंपनियां दाम बढ़ा रही हैं।  कहा जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से ये दाम कम हो रहे हैं।  वैसे जानकारों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में दाम गिरने के तीन दिन बाद इसका असर देश में देखने को मिलता है। तब यह कहा जा सकता है कि जल्द ही लोगों को राहत देने के लिए तेल कंपनियां ये दाम कम करेंगी। 
कुछ जानकारों का कहना है कि कर्नाटक चुनाव के दौरान लगातार 19 दिन तक अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम बढ़ने के बावजूद  दाम नहीं बढ़ाने को विवश कंपनियों का घाटा लगभग पूरा हो चुका है। यह भी एक कारण है कि कंपनियां जल्द ही तेल के दाम कम करेंगी।  
पिछले कुछ दिनों में कच्चे तेल की कीमतों में 6 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गई।  जबकि इन पांच दिनों में रुपए 1.5 फीसदी मजबूत हु्आ है। ऐसे में यह सवाल भी उठ रहे हैं कि सरकार कब पेट्रोल-डीजल के दाम कम करेगी।  हालांकि कच्चा तेल सोमवार को गिरावट के साथ 75 डॉलर प्रति बैरल पहुंचने से यह उम्मीद की जा रही है कि पेट्रोल कंपनियां एक-दो दिन में इसके दाम कम कर सकती है।  

ये भी पढ़ें :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडोनेशिया, मलेशिया और सिंगापुर का करेंगे दौरा

खबरें