लोकसभा में शुक्रवार को राफेल विमान सौदे के मुद्दे पर जोरदार हुई चर्चा
लोकसभा में शुक्रवार को राफेल विमान सौदे के मुद्दे पर जोरदार हुई चर्चा
04, Jan 2019,05:01 PM
Edited BY: Aarti Singh,

लोकसभा में शुक्रवार को राफेल विमान सौदे के मुद्दे पर जोरदार चर्चा हुई। कांग्रेस के आरोपों का रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने विस्तार से जवाब दिया। वहीं, राहुल गांधी ने भी इसे लेकर मोदी सरकार और पीएम को घेरा। उन्होंने कहा कि अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया गया।

राहुल ने आरोप लगाया कि पुराने कांट्रैक्ट को बदलकर नया कांट्रैक्ट बनाया गया। नए कांट्रैक्स में एचएएल को हटाकर अनिल अंबानी को लाया गया। अनिल अंबानी को लाने का फैसला किसने लिया? फ्रांस के तत्कालीन राष्ट्रपति ओलांद ने कहा था कि यह मोदी जी ने किया। यूपीए के समय में राफेल का दाम 526 करोड़ था, आपके शासन में 1600 करोड़ रुपये कैसे हो गया? 

रक्षा मंत्री सदन में राहुल गांधी के आरोपों पर विस्तार से जवाब दे रही थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विमान का सौदा करना ही नहीं चाह रही थी। उन्होंने राहुल गांधी के एए (अनिल अंबानी) वाली टिप्पणी के जवाब में आरवी (रॉबर्ट वाड्रा) और क्यू (क्वात्रोक्की) का जिक्र कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हर एए के जवाब में एक आरवी और एक क्यू का नाम आ जाता है। 

बाद में संसद के बाहर राहुल ने कहा कि कई सवाल उठे हैं। लेकिन किसी का जवाब नहीं मिला। रक्षा मंत्री ने अनिल अंबानी का नाम 2 घंटे के दौरान एक बार भी नहीं लिया। मैंने पूछा कि क्या एयर फोर्स ने आपत्ति जताई थी, इस पर उन्होंने ड्रामा शुरू कर दिया।  

ये भी पढ़ें :

कांग्रेस के नेता पाकिस्तान में जाकर मोदी को सत्ता से हटाने की मदद मांगकर आए हैं.

खबरें