कांग्रेस के नेता पाकिस्तान में जाकर मोदी को सत्ता से हटाने की मदद मांगकर आए हैं.
कांग्रेस के नेता पाकिस्तान में जाकर मोदी को सत्ता से हटाने की मदद मांगकर आए हैं.
04, Jan 2019,05:01 PM
Edited BY: Aarti Singh,

रक्षा मंत्री ने फिर से सदन में बोलना शुरू कर दिया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोगों ने प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री से लेकर एयर चीफ के बारे में गलत बातें कहीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता पाकिस्तान में जाकर मोदी को सत्ता से हटाने की मदद मांगकर आए हैं. उन्होंने कहा कि हम विमान के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते. उन्होंने कहा कि सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा की वजह से ज्यादा जानकारी दे सकती है. लेकिन कांग्रेस बताए वो क्यों इसकी डिटेल जानकारी मांग रहे हैं. उन्होंने कहा कि सदन में पूर्व रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री के साथ क्या बर्ताव किया गया. मेरे बारे में कहा गया कि रक्षा मंत्री AIADMK के लोगों के पीछे छुप रही हैं. क्या-क्या सदन में नहीं कहा जा चुका है.

रक्षा मंत्री ने कहा कि यूपीए के 18 विमानों की संख्या बढ़ाकर हमने 36 की है जबकि कांग्रेस देश को गुमराह कर रही है कि मोदीजी ने विमानों की संख्या घटा दी है. मंत्री ने कहा कि जब भी आपात स्थिति में कुछ खरीदा जाता है तो जल्दी में 36 विमान खरीदे जाते हैं. पहले भी ऐसा हो चुका है जब 1982 में 36 विमानों की खरीद की गई थी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस परेशान है कि मिशेल भारत आ चुका है और अब वह पोल खोलने वाला है. रक्षा मंत्री ने कहा कि अगस्ता की डील HAL के साथ क्यों नहीं की गई, क्योंकि HAL कांग्रेस को सिर्फ हेलिकॉप्टर देती, बाकी कुछ नहीं मिलता.

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि संसद में हंसी मजाक करना ठीक है लेकिन हर AA के बाद एक RV और Q भी है. उन्होंने कहा कि ये RV प्रधानमंत्री का दामाद नहीं बल्कि देश का दमाद है. उन्होंने कहा कि यूपीके के वक्त भी HAL के साथ कोई करार साइन नहीं किया गया था, इसलिए कांग्रेस पार्टी HAL के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करे. मंत्री ने कहा कि दसॉल्ट ने HAL में बनने वाले राफेल विमानों की गारंटी लेने से इनकार कर दिया था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भी तब इस मुद्दो का समाधान नहीं निकाला था और आज आंसू बहा रहे हैं. लोकसभा में रक्षा मंत्री ने कहा कि स्टैंडिंग कमेटी ने उस वक्त HAL पर सवाल उठाए थे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को यह पता होना चाहिए.

गांधी ने कहा कि रक्षा मंत्री ने मेरा नाम लिया है और आरोप लगाए हैं तो मुझे सफाई देने का मौका मिलना चाहिए. स्पीकर ने कहा कि आपको मौका दिया जाएगा लेकिन आप थोड़ी देर ही बोल सकते हैं.

ये भी पढ़ें :

दिल्ली में हुआ माया-अखिलेश के बीच सीटों का बंटवारा, 37-37 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

खबरें