दिल्ली हाईकोर्ट ने पूछा- LG कार्यालय में धरना देने की अनुमति किसने दी?
दिल्ली हाईकोर्ट ने पूछा- LG कार्यालय में धरना देने की अनुमति किसने दी?
18, Jun 2018,01:06 PM
ANI,

दिल्ली में राज्य सरकार और उपराज्यपाल के बीच चल रही खींचतान को लेकर अब दिल्ली हाईकोर्ट ने टिप्पणी की है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल करीब 7 दिन से हड़ताल पर हैं, इसपर टिप्पणी करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि हम समझ नहीं पा रहे हैं कि ये धरना है या हड़ताल और क्या इसकी कोई अनुमति ली गई या खुद ही तय कर लिया गया। दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल और उनकी सरकार से पूछा है कि वह बताएं कि उपराज्यपाल के घर पर वह किसकी इजाजत से धरने पर बैठे।
अफसरों की कथित हड़ताल के मामले को लेकर अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्री एलजी हाउस में पिछले 8 दिन से हड़ताल पर बैठे हैं। इस मामले में दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता और भाजपा विधायक विजेंदर गुप्ता ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।
कोर्ट ने पूछा कि अगर ये खुद व्यक्तिगत रूप से तय किया गया (केजरीवाल और मंत्रियों द्वारा) फैसला है तो ये एलजी के घर के बाहर होना चाहिए था। क्या एलजी के घर के अन्दर ये धरना करने के लिए इजाजत ली गई है? हाईकोर्ट ने कहा कि आप कैसे किसी के घर या दफ्तर में जाकर हड़ताल पर बैठ सकते हैं।
केजरीवाल ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। केजरीवाल ने कहा है कि सर इन आईएएस अधिकारियों की हड़ताल खत्म करवा दीजिए और दिल्ली सरकार को प्लीज काम करने दीजिए। बता दें कि कल आईएएस असोसिएशन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केजरीवाल के आरोपों का खंडन किया और कहा कि सभी विभाग के अधिकारी काम कर रहे हैं।
आईएएस अफसरों की हड़ताल खत्म कराने की मांग को लेकर चल रहे इस धरने का कई विपक्षी पार्टियों ने समर्थन दिया है। ममता बनर्जी, एचडी कुमारस्वामी, चंद्रबाबू नायडू और पिनाराई विजयन शनिवार को केजरीवाल से मिलने एलजी ऑफिस पहुंचे थे, लेकिन उन्हें इजाजत नहीं मिली। रविवार को आम आदमी पार्टी ने पीएम आवास तक मार्च निकालने का प्रयास किया, लेकिन परमिशन न होने के कारण उन्हें बीच में ही रोक दिया गया।

ये भी पढ़ें :

पति ने दी पत्नी को भगवान की जगह, उनकी याद में बनवाया मंदिर

खबरें