संबरीमाला मंदिर में एक बार फिर महिलाओं के प्रवेश को लेकर हुआ घमाशान
संबरीमाला मंदिर में एक बार फिर महिलाओं के प्रवेश को लेकर हुआ घमाशान
16, Jan 2019,10:01 AM
tv100,

30 साल की दो महिलाओं को गुस्साए श्रद्धालुओं ने बुधवार को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने से रोक दिया। रेशमा और सनीला नाम को दोनों महिलाएं  कन्नूर की रहने वाली है। लगभग साढ़े पांच किमी की यात्रा तय करने के बाद वह चोटी तक पहुंची थी मगर गुस्साए भक्तों की भीड़ ने उन्हें प्रवेश करने से रोक दिया। उन्होंने अपनी यात्रा की शुरुआत सुबह पांच बजे की थी। दोनों के मुताबिक वह दर्शन इसलिए करने आईं थी क्योंकि पुलिस ने उन्हें सुरक्षा का भरोसा दिया था। हालात काबू से बाहर जाते देख पुलिस ने दोनों महिलाओं को पंबा के बेस कैंप ले जाना मुनासिब समझा और उन्हें दो घंटे तक वहीं रहने की सलाह दी।

बता दें कि पिछले साल सितंबर में सुप्रीम कोर्ट ने 10 से 50 वर्ष की आयु की महिलाओं को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश की पाबंदी हटा दी थी। हालांकि, भगवान अयप्पा स्वामी के भक्तों के विरोध के कारण एक भी महिला मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकी थी।

राज्य की लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट की सरकार ने कहा था कि वह कोर्ट के फैसले को लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है। जिसके बाद दो जनवरी को कनकदुर्गा और बिंदु नाम की दो महिलाओं ने पुलिस के सहयोग से मंदिर में प्रवेश किया था। इनके प्रवेश के बाद पूरे प्रदेश में हिंसा भड़क उठी थी। 

मंदिर में प्रवेश के बाद 14 जनवरी को जब कनक दुर्गा अपने घर वापस लौटी तो उसके इस कदम से नाराज सास ने उसपर हमला कर दिया। जिसके बाद उसे  मल्लपुरम जिले के पेरिन्थालमन्ना में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

 

ये भी पढ़ें :

कर्क

खबरें