कर्नाटक:बहुमत साबित करने की समय-सीमा खत्म,राज्यपाल वापस जाओ के नारे
कर्नाटक:बहुमत साबित करने की समय-सीमा खत्म,राज्यपाल वापस जाओ के नारे
19, Jul 2019,03:07 PM
TV100,

कर्नाटक विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए राज्यपाल की तरफ से तय की गई दोपहर 1:30 बजे की समय सीमा का मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी पालन नहीं कर पाए। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने शुक्रवार को विधानसभा में बहस जारी रखते हुए विश्वासमत के दौरान यह आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी उनकी सरकार को गिराना चाह रही थी। उन्होंने कहा कि सीट मेरे लिए महत्वपूर्ण नहीं है।

राज्यपाल वजुभाई वाला की तरफ से शुक्रवार की दोपहर डेढ़ बजे तक बहुमत साबित करने दी गई समय-सीमा के बाद कुमारस्वामी ने कहा मैं यह देखूंगा कि इस प्रयास के बाद आखिर कब तक आप यहां रहते हो।

मुंबई के अस्पताल में भर्ती कांग्रेस विधायक श्रीमंत पाटिल ने राज्यपाल को लिख पत्र में बताया कि मुझे बीजेपी ने अगवा नहीं किया है। मैं व्यक्तिगत काम से चेन्नई गया था, जहां सीने में दर्द होने पर डॉक्टर के पास गया। डॉक्टर के सुझाव पर मुंबई आकर भर्ती हुआ हूं। इसलिए, विधानसभा सत्र में मौजूद नहीं रह सका। विधानसौदा में स्पीकर केआर रमेश ने केआर रमेश ने सदस्यों को यह जानकारी दी। 

इससे पहले, गुरूवार को विधानसभा में गुरूवार को उस वक्त हाई ड्रामा शुरु हुआ जब राज्यपाल वजुभाई वाला का यह आदेश आया कि कुमारस्वामी शुक्रवार डेढ़ बजे तक अपना बहुमत साबित करे। राज्यपाल वजुभाई वाला की तरफ से मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को बहुमत साबित करने के लिए शुक्रवार दोपहर डेढ़ बजे का समय दिए जान के बाद हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। बीजेपी ने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार पर बहुमत साबित करने में जानबूझकर देरी का आरोप लगाते हुए विधानसौदा के अंदर ही रातभर प्रदर्शन किया। वहां पर वे सदन परिसर के अंदर ही खाते और फर्श पर सोते दिखे।

विश्वासमत के दौरान विधानसौदा में हो रही बहस पर कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा- बहस अभी पूरी नहीं नहीं हुई है और 20 सदस्यों का हिस्सा लेना अभी बाकी है। मैं नहीं मानता हूं कि आज यह पूरा हो पाएगा और यह सोमवार को भी जारी रहेगा।

विधानसौदा तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है। वोटिंग स्पीकर की तरफ से देरी की गई है जब तक कि इस पर चर्चा पूरी नहीं हो जाती है।

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला की तरफ से बहुमत साबित करने के लिए दी गई समय-सीमा खत्म हो गई। उन्होंने स्पीकर केआर रमेश को यह निर्देश दिया था वे आज दोपहर डेढ़ बजे तक फ्लोर टेस्ट कराए।

ये भी पढ़ें :

सोनभद्र हत्याकांड में बड़ी कार्रवाई, एसडीएम, सीओ समेत पांच निलंबित

खबरें